Health Information
with Expert Opinion

Home » Healthy Lifestyle » Beauty & Wellness » Oral Care » मुंह के कैंसर के खतरे को कम करने के ९ प्रभावी तरीके

मुंह के कैंसर के खतरे को कम करने के ९ प्रभावी तरीके

- 12th April 2017
Oral Cancer

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, मुंह का कैंसर दुनिया भर में देखा जाने वाला ११ वां सबसे आम कैंसर है। मुंह के कैविटी में देखा जाने वाला कोई भी कैंसरयुक्त उपज मुंह के कैंसर के रूप में माना जाता है। इसमें होंठ, गाल, मसूड़ों, जीभ, टॉन्सिल और गले के ऊपरी हिस्से शामिल हैं। यद्यपि कैंसर को रोका नहीं जा सकता हैं, फिर भी कुछ उपायों का पालन करके उसकी जोखिम को कम किया जा सकता है।

अपनी जोखिम को जानना

इसे कम करने के लिए योजना तैयार करने में मदद के लिए अपने जोखिम कारकों को जानना महत्वपूर्ण है। अगर आप जानते हैं कि आपके जोखिम के कारक क्या हैं, तो आपने आधी लड़ाई जीती है। सामान्य जोखिम कारकों में धूम्रपान, शराब पीना, अस्वास्थ्यकर खाद्य विकल्प, सुस्त जीवन शैली और इस स्थिति का पारिवारिक इतिहास शामिल है। एक दिन में तीन से अधिक बार शराब पीना मुंह के कैंसर का खतरा बढा सकता है। अगर आपको  पहले सिर या गर्दन का कैंसर हुआ हैं, तो मुंह का कैंसर होने की संभावना अधिक होती है। धूम्रपान करना तंबाकू चबाने जितना ही हानिकारक है जो मुंह के कैंसर का एक प्रमुख कारण है। लगभग ९० %  मुंह का कैंसर अत्यधिक तंबाकू और शराब पीने के कारण होता हैं। बार-बार अल्ट्रा-वायलेट किरणों के साथ होठों के संपर्क से मुंह के कैंसर का खतरा बढ़ सकता है। उम्र बढ़ने से कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के मुताबिक, महिलाओं की तुलना में पुरुष को मुंह का कैंसर होने का खतरा अधिक होता हैं।

अपने जोखिम को कम करना

कुछ जोखिम कारक गैर-नियंत्रणीय हैं जैसे आयु, लिंग और परिवार के इतिहास, हालांकि, कई अन्य कारक हैं जो जीवनशैली में कुछ संशोधनों से नियंत्रित किए जा सकता है।

मुंह की स्वच्छता बनाए रखें

अपने दांतों को नियमित रूप से ब्रश और फ्लोस करें। मुंह के स्वच्छता को बनाए रखने के लिए मुंह को माउथवॉश से धोना भी आवश्यक है। एक अस्वच्छ मुंह से संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। पुराना मुंह का संक्रमण मुंह के कैंसर के जोखिम का कारक हैं।

हर महीने स्वयं परीक्षा करें

इसे नियमित रूप से करने की योजना बनाएं क्योंकि इसमें कुछ मिनट ही लगते हैं और आपको शीघ्र निदान में सहायता मिल सकती है। अपने मुंह को पूरी तरह से जीभ के पीछे और बाजू में देखें। अगर आप किसी भी महत्वपूर्ण बदलाव जैसे गांठ या रंग के धब्बे देखते हैं, तो तुरंत अपने दंत चिकित्सक से परामर्श करें।

अत्यधिक धूप से बचें

यूवी-ए/बी-अवरोधक लिप बाम / स्टिक का उपयोग करना जो आपके होंठों को धूप से संरक्षण प्रदान करती है। १० बजे से २ बजे के बीच बाहर जाना टालें। यदि आपको धूप में बाहर जाना है तो ब्रॉड-ब्रमीड टोपी का उपयोग करें।

तम्बाकू छोड़ें

धूम्रपान न करें या किसी भी प्रकार के तंबाकू उत्पाद को न चबाएं क्योंकि इससे मुंह के कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। अगर आप धूम्रपान कर रहे हैं, तो विशेषज्ञ की सलाह लें या धूम्रपान छोड़ने के लिए सहायता समूहों से मदद लें। निकोटीन गम या पैच के प्रयोग से आपको धूम्रपान छोड़ने में  मदद मिल सकती हैं।

शराब पीना सीमित करें

संयम से पीना, क्योंकी हर दिन तीन से अधिक बार शराब पीने से, मुंह के कैंसर के जोखिम में काफी वृद्धि हो सकती है। अगर आप एक महिला हैं, तो दिन एक गिलास और अगर आप एक आदमी हैं, तो दिन दो गिलास पीने की सिफारिश की जा सकती है।

एचपीवी संक्रमण से बचें

ह्युमन पापीलोमा वायरस (एचपीवी) संक्रमण मुंह के कैंसर का खतरा बढा सकता है। यह संक्रमण आमतौर पर धूम्रपान करने वालों (सिगरेट पीने वालों)  में देखा जाता है। चुंबन, पेय साझा करना, आदि जैसी गतिविधियां रोग फैला सकती है। एचपीवी के जोखिम वाले कारकों से बचने के लिए आपको टीकाकरण करना होगा।

एक सक्रिय जीवन शैली बनाए रखें

एक सक्रिय जीवन शैली बनाए रखने के लिए नियमित रूप से व्यायाम करें क्योंकि इससे आपकी रोग प्रतिरक्षा को बढ़ावा मिल सकता है और कैंसर से लड़ने में मदद मिल सकती है।

भोजन में कैंसर से लड़ने वाले खाद्य पदार्थों को शामिल करें

कुछ स्वास्थ्य देखभाल संगठनों ने कैंसर की रोकथाम में अपनी भूमिका के लिए भोजन जैसे गहरी हरी पत्तेदार सब्जियां, अंगूर, लहसुन, फ्लैक्स, सोया, ग्रीन टी और टमाटर खाने की सलाह दी है। लाल मांस, प्रोसेस्ड और डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ, कृत्रिम खाद्य फ्लेवर्स, और तले हुए खाद्य पदार्थों से बचें। खाना बनाने के तरीके भी महत्वपूर्ण हैं। इसे फ्राइंग और ग्रीलिंग के बजाय उबालना, पकाना या भाप पर पकाना ऐसे किया जा सकता है क्योंकि यह पोषक तत्वों को बनाए रखने में मदद करता है। खाने में लहसुन, अदरक और करी पाउडर जैसे स्वस्थ मसालों का उपयोग कैंसर से लड़ने की क्षमताओं के साथ स्वाद को बढ़ाने के लिए किया सकता है।

दांतों की नियमित जांच करें

अपने दंत चिकित्सक को प्रत्येक छः महीनों में कम से कम एक बार मिले और मुंह के कैंसर की स्क्रीनिंग टेस्ट के लिए अनुरोध करें।आय ११ फिटिंग डेन्चर, दांत गिरना, और टूटे हुए दांत मुंह में जलन पैदा कर सकते हैं और मुंह के कैंसर के खतरे को बढ़ा सकते हैं। इसलिए, इन समस्याओं का इलाज करने और प्रबंधित करने के लिए अपने दंत चिकित्सक से परामर्श करें।मुंह का कैंसर पूरी तरह से टाला नहीं जा सकता। हालांकि, यदि आप अपने जोखिम कारकों का प्रबंधन करते हैं और आवश्यक सावधानी बरतते हैं, तो आप अपने जोखिम को काफी कम कर सकते हैं।

Related Posts

मुंह के कैंसर के खतरे को कम करने के ९ प्रभावी तरीके
Join the Discussion

Comments

Editor's Choice

7 Useful Tips For Dental Hygiene We have all heard the saying that the mouth is the window to your overall health...
How Is Your Diet Destroying That Beautiful Smile? When I was younger, my mother would tell me to brush my teeth twice a day for a ...
Stop Eating These 5 Foods For Better Teeth For many of us, a visit to the dentist could be one of the most dreaded things i...
दांतों की स्वच्छता के लिए ७ उपयोगी टिप्स... हमने सभी को यह कहते सुना है की मुंह आपके संपूर्ण स्वास्थ्य की खिडकी होता है। दां...
5 Reasons Why You Have Bleeding Gums When You Brus... Noticing blood in your spit while brushing or flossing could be alarming for you...
X

मुंह के कैंसर के खतरे को कम करने के ९ प्रभावी तरीके